डॉक्टर ने 20 बच्चों को पेट दर्द और गैस की दी ऐसी दवा, सभी बच्चों के पूरे शरीर पर उग आए बाल

बच्चों के परिवारवालों ने दवा बनाने वाली लेबोरेटरी के खिलाफ सिविल और क्रिमिनल केस फाइल कर दिया है।

नई दिल्ली। हिंदुस्तान में डॉक्टरों की गलती की वजह से अक्सर मरीजों की जान तक चली जाती है। जब ऐसी घटनाएं सामने आती हैं तो यहां की मेडिकल फेसिलिटीज पर सबसे पहले आरोप लगता है, लेकिन डॉक्टरों की लापरवाही का सबसे अधिक चौंकाने वाला मामला स्पेन से सामने आया है। दरअसल, उत्तरी स्पेन के कैंटाब्रिया इलाके में पेट दर्द और गैस की शिकायत के बाद डॉक्टरों ने ऐसी दवाई दी कि बच्चों के शरीर में ढेर सारे बाल उग आए। ये घटना सिर्फ एक बच्चे के साथ नहीं हुई है, बल्कि जिन 20 बच्चों को वो दवाई दी गई उन सभी के पूरे शरीर पर बाल उग आए हैं।

बच्चों के माता-पिता ने लेबोरेटरी के खिलाफ दर्ज कराया केस

ये पूरी घटना कैंटाब्रिया के टोरेलावेगा (Torrelavega) शहर की है। स्थानीय प्रशासन ने डॉक्टर की इस गलती को स्वीकार किया है। प्रशासन ने कहा है कि बच्चों को पेट दर्द और गैस की दवा ओमेप्राजोल (Omeprazole) की जगह मिनोजिडिल (Minoxidil) दवा दे दी गई। अब ये 20 बच्चे हाइपरट्रिचोसिस (Hypertrichosis) नामक बीमारी से ग्रस्त हो गए हैं। इस बीमारी में शरीर पर अनचाही जगहों पर भी बाल उग आए हैं। इस घटना को लेकर बच्चों के माता-पिता ने मिलकर दवा बनाने वाली लेबोरेटरी के खिलाफ सिविल और क्रिमिनल केस फाइल कर दिया है।

कैसे हुई ये लापरवाही?

एक अंतरराष्ट्रीय वेबसाइट की खबर के मुताबिक, मिनोजिडिल सीरप की बोतलों पर ओमेप्राजोल का लेबल लगा कर ग्रानाडा, कैंटाब्रिया और वैलेंसिया इलाकों की दवा दुकानों पर बांट दी गईं, जिसकी वजह से ये दिक्कत हुई।

You Might Also Like