ओडिशा: धर्मेंद्र प्रधान की बैठक के बाद भाजपा के कट्टर समर्थक समेत 800 कार्यकर्ता BJD में हुए शामिल

धेनकनल नगरनिगम के पूर्व चेयरमन सुधांशु डालेई की अगुवाई में करीब 800 भाजपा कार्यकर्ताओं ने पार्टी छोड़ दिया।

ओडिशा की राजनीति में बड़ा सियासी भूचाल आया है। धेनकनल नगरनिगम के पूर्व चेयरमन सुधांशु डालेई की अगुवाई में करीब 800 भाजपा कार्यकर्ताओं ने पार्टी छोड़ दिया। इन सभी ने भाजपा को झटका देते हुए बीजू जनता दल (BJD) का दामन थाम लिया है। बीजेपी के लिए ये बुरी खबर केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के राज्य दौरे के बाद आई। एक दिन पहले ही बैठक में धर्मेंद्र प्रधान ने राज्य सरकार पर किसानों के फंड का गलत इस्तेमाल का आरोप लगाया था। धर्मेद्र प्रधान ने पटनायक सरकार पर केंद्र सरकार द्वारा आवंटित फंड्स के गलत इस्तेमाल का आरोप लगाया था।

कट्टर समर्थक ने छोड़ी पार्टी

सबसे हैरान करने वाली बात तो ये है कि सुधांशु 16 साल से बीजेपी में हैं और 15 साल से धर्मेंद्र प्रधान के कट्टर समर्थक माने जाते हैं। पिछले सत्र में वे धेनकनल से नगरनिगम के चेयरमैन चुने गए थे। पार्टी छोड़ने से पहले उन्होंने पार्टी में वरिष्ठों की अनदेखी करने का आरोप लगाया। इसके अलावा उन्होंने पार्टी की जिले की ईकाई पर परिवारवादी राजनीति को लेकर भी निशाना साधा।

लंबे समय से BJD में शामिल होना चाहते थे भाजपा नेता

भाजपा कार्यकर्ता राज्य के इस्पात और खान मंत्री प्रफुल्ल मल्लिक समेत BJD के कई अन्य वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए। इस दौरान मंत्री मल्लिक ने कहा कि भाजपा के कई नेता लंबे समय से हमारे पार्टी में शामिल होने की इच्छा जता रहे थे। वहीं, डालेई ने कहा कि भाजपा नेता और कार्यकर्ता ओडिशा सीएम और बीजेडी सुप्रीमो नवीन पटनायक की लोकप्रियता और सिद्धांतों से प्रेरित थे। राज्य में उनका स्थिर सरकार संचालन प्रेरणादायी है। 

You Might Also Like