गर्मी से नहीं मिलेगी राहत, लू के थपेड़े करेंगे परेशान

दक्षिणी भारत के साथ-साथ उत्तरी भारत में भी भीषण गर्मी सताने लगी है, जिससे लोग पसीना-पसीना हो रहे हैं।

दक्षिणी भारत के साथ-साथ उत्तरी भारत में भी भीषण गर्मी सताने लगी है, जिससे लोग पसीना-पसीना हो रहे हैं। देश के कुछ इलाकों में गर्म लू के थपेड़े भी मुसीबत बने हुए हैं। दूसरी ओर India Weather Department ने भी कुछ हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है। मौसम विभाग के अनुसार अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह में कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है।

इस क्षेत्र में तेज तूफान के साथ बारिश होने की संभावना है। IMD ने इस दौरान मछुआरों से समुद्र से दूर रहने को कहा है। वहीं आईएमडी के मुताबिक अगले दो दिन तक आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्रों में लू चलने की संभावना है। इसके साथ ही तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल के तटीय इलाकों में अगले 5 दिनों तक गर्म लू के थपेड़े चल सकते हैं।

इसके अलावा मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ उत्‍पन्‍न हो रहा है। इसके प्रभाव के कारण हिमालयी क्षेत्रों में 4 से 7 अप्रैल तक तूफान, ओलावृष्टि और तेज हवाओं से साथ बारिश होने की संभावना है। इस प्रभाव के कारण 6 अप्रैल को जम्‍मू, कश्‍मीर, लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्‍तान, मुजफ्फराबाद और हिमाचल प्रदेश में बारिश होने की संभावना है। 

साथ ही 7 अप्रैल को उत्‍तराखंड में भी बारिश हो सकती है। वहीं 5 से 7 अप्रैल के बीच Rajasthan के कुछ इलाकों में धूल भरी आंधी चलने की आशंका है. इन हवाओं की रफ्तार 30 से 40 किमी प्रति घंटा रहेगी। मौसम विभाग के अनुसार राजस्‍थान के कई हिस्सों में 5 से 7 April के दौरान 30-40 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से धूल भरी हवाएं चलेंगी। अगले दो दिनों के दौरान तटीय आंध्र प्रदेश और यानम के कुछ हिस्सों में गंभीर हीट वेव की स्थिति होने की संभावना है। 

यही नहीं अगले पांच दिनों तक तटीय आंध्र प्रदेश, यनम, तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल में अलग-अलग इलाकों में हीट वेव की स्थिति बनने के आसार हैं। सौराष्ट्र कच्छ, तेलंगाना और रायलसीम के कुछ हिस्सों में हीटवेव की स्थिति बन सकती है।

You Might Also Like